Title zaraa sun hasiinaa ai naazaniin Film Kaun Apna Kaun Paraaya Music Director Ravi Lyricist Shakeel Badayuni Singers Mohammad Rafi Raag Pahadi

गाना / Title: ज़रा सुन हसीना ऐ नाज़नीं – zaraa sun hasiinaa ai naazanii.n

चित्रपट / Film: Kaun Apna Kaun Paraaya

संगीतकार / Music Director: रवी-(Ravi) गीतकार / Lyricist: शकील बदायुनी-(Shakeel Badayuni) गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi) राग / Raag: Pahadi


ज़रा सुन हसीना ऐ नाज़नीं
मेरा दिल तुझ ही पे निसार है
तेरे दम से ही मेरे दिलरुबा
मेरी ज़िंदगी में बहार है

हुई जब से मुझ पे तेरी नज़र
मैं हूँ अपने आप से बेख़बर
हुआ जब से दिल में तेरा गुज़र
मुझे चैन है न क़रार है

तेरे हुस्न से जो सँवर गई
वो फ़िज़ाएं मुझको अज़ीज़ हैं
तेरी ज़ुल्फ़ से जो लिपट गईं
मुझे उन हवाओं से प्यार है

ये हसीन फूलों की डालियाँ
तुझे दे रही है सलामियाँ
मुझे क्यों न रश्क़ हो ऐ सनम
तेरे साथ फ़स्ल-ए-बहार है

Lyrics:
zaraa sun hasiinaa ai naazanii.n
meraa dil tujh hii pe nisaar hai
tere dam se hii mere dilarubaa
merii zi.ndagii me.n bahaar hai

hu_ii jab se mujh pe terii nazar
mai.n huu.N apane aap se beKabar
hu_aa jab se dil me.n teraa guzar
mujhe chain hai na qaraar hai

tere husn se jo sa.Nvar ga_ii
vo fizaa_e.n mujhako aziiz hai.n
terii zulf se jo lipaT ga_ii.n
mujhe un havaa_o.n se pyaar hai

ye hasiin phuulo.n kii Daaliyaa.N
tujhe de rahii hai salaamiyaa.N
mujhe kyo.n na rashq ho ai sanam
tere saath fasl-e-bahaar hai
Title zaraa sun hasiinaa ai naazaniin Film Kaun Apna Kaun Paraaya Music Director Ravi Lyricist Shakeel Badayuni Singers Mohammad Rafi Raag Pahadi

गाना / Title: ज़रा सुन हसीना ऐ नाज़नीं – zaraa sun hasiinaa ai naazanii.n

चित्रपट / Film: Kaun Apna Kaun Paraaya

संगीतकार / Music Director: रवी-(Ravi) गीतकार / Lyricist: शकील बदायुनी-(Shakeel Badayuni) गायक / Singer(s): मोहम्मद रफ़ी-(Mohammad Rafi) राग / Raag: Pahadi


ज़रा सुन हसीना ऐ नाज़नीं
मेरा दिल तुझ ही पे निसार है
तेरे दम से ही मेरे दिलरुबा
मेरी ज़िंदगी में बहार है

हुई जब से मुझ पे तेरी नज़र
मैं हूँ अपने आप से बेख़बर
हुआ जब से दिल में तेरा गुज़र
मुझे चैन है न क़रार है

तेरे हुस्न से जो सँवर गई
वो फ़िज़ाएं मुझको अज़ीज़ हैं
तेरी ज़ुल्फ़ से जो लिपट गईं
मुझे उन हवाओं से प्यार है

ये हसीन फूलों की डालियाँ
तुझे दे रही है सलामियाँ
मुझे क्यों न रश्क़ हो ऐ सनम
तेरे साथ फ़स्ल-ए-बहार है

Lyrics:
zaraa sun hasiinaa ai naazanii.n
meraa dil tujh hii pe nisaar hai
tere dam se hii mere dilarubaa
merii zi.ndagii me.n bahaar hai

hu_ii jab se mujh pe terii nazar
mai.n huu.N apane aap se beKabar
hu_aa jab se dil me.n teraa guzar
mujhe chain hai na qaraar hai

tere husn se jo sa.Nvar ga_ii
vo fizaa_e.n mujhako aziiz hai.n
terii zulf se jo lipaT ga_ii.n
mujhe un havaa_o.n se pyaar hai

ye hasiin phuulo.n kii Daaliyaa.N
tujhe de rahii hai salaamiyaa.N
mujhe kyo.n na rashq ho ai sanam
tere saath fasl-e-bahaar hai

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *